UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojna 2021 | यूपी मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना में आवेदन कैसे करें | अभ्युदय योजना रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन कैसे करें

UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojna 2021 क्या है 

यूपी मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के बारे में : क्या है अभ्युदय योजना? याद दिला दें कि राज्य के 71वें स्थापना दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मुफ्त कोचिंग की सुविधा प्रदान करने की घोषणा की थी। यह योजना मुख्य रूप से उन छात्रों के लिए लाभदायक होगी जिनमें पढ़ने की, कुछ कर दिखाने की चाह है लेकिन संसाधनों की कमी के कारण पीछे रह जाते हैं। इतना ही नहीं, योजना के बेहतर क्रियान्वन के लिए 6 सदस्यीय राज्य स्तरीय समिति का भी गठन किया गया है।

अभ्युदय योजना रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन


उत्तर प्रदेश में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए मुफ्त कोचिंग की सुविधा 'अभ्युदय योजना' के तहत पंजीकरण प्रक्रिया 10 फरवरी, 2021 से शुरू हो चुकी है। आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों के लिए सरकार ने यह योजना आरंभ की है। बता दें कि बसंत पंचमी के दिन मुख्यमंत्री योजना को हरी झंडी दिखाएंगे।

यूपी मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी

यूपी मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना में किन परीक्षाओं की कराई जाएगी तैयारी : उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आईएएस, आईपीएस, पीसीएस, एनडीएस, सीडीएस, नीट और जे ई ई जैसी प्रतियोगिताओं की परीक्षा की तैयारी करने के लिए मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना आरंभ की गई है। इस योजना के अंतर्गत ऐसे सभी छात्रों को निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी जो इन परीक्षाओं की तैयारी करना चाहते हैं .
  1. संघ लोक सेवा आयोग, यूपी लोक सेवा आयोग, अधीनस्थ सेवा चयन आयोग समेत अन्य भर्ती बोर्ड संस्थाओं द्वारा आयोजित परीक्षाएं।
  2. NTA द्वारा आयोजित जेईई और नीट।
  3. एनडीए, सीडीएस, अर्धसैनिक, केंद्रीय पुलिस बल, बैंकिंग, एसएससी, बीएड, टीईटी समेत अन्य प्रतियोगी परीक्षाएं।
  4. संघ लोक सेवा आयोग, यूपी लोक सेवा आयोग की मुख्य परीक्षाएं व साक्षात्कार की भी तैयारी कराई जाएगी।

यूपी मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया

अभ्युदय योजना रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन कैसे करें : यह पंजीकरण प्रक्रिया 10 फरवरी 2021 से आरंभ कर दी गई है। बसंत पंचमी के दिन से मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत कक्षाएं आरंभ कर दी जाएंगी। इस योजना को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कोरोनावायरस संक्रमण के दौरान दूसरे राज्य में फंसे छात्रों की परेशानी को देखते हुए आरंभ किया है। अब मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के माध्यम से छात्रों को परीक्षाओं की कोचिंग प्राप्त करने के लिए किसी दूसरे राज्य या फिर छेत्र में नहीं जाना पड़ेगा। वह अपने ही क्षेत्र से अच्छी से अच्छी कोचिंग प्राप्त कर पाएंगे।

  1. सर्वप्रथम आपको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा। होम पेज पर आपको रजिस्टर नाउ के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  3. अब आपको परीक्षा का चयन करना होगा। इसके पश्चात आपके सामने इनरोलमेंट फॉर्म खुलकर आएगा।
  4. आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, फोन नंबर, ईमेल आई डी, डिवीजन, क्वालिफिकेशन, एड्रेस आदि दर्ज करना होगा।
  5. इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  6. अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको संबंधित जानकारी दर्ज करके अपने अकाउंट को वेरीफाई करना होगा।
  7. इस बाद आपको कंफर्म के बटन पर क्लिक करना होगा।
  8. इस प्रकार आप मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।

सक्षम कक्षाओं के लिए चयन हेतु ऑनलाइन परीक्षा आवेदन प्रक्रिया

UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojna 2021,यूपी मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना में आवेदन कैसे करें
    1. सर्वप्रथम आपको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
    2. अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
    3. होम पेज पर आपको सक्षम कक्षाओं के लिए चयन हेतु ऑनलाइन परीक्षा के लिए यहां क्लिक करें के लिंक पर क्लिक करना होगा।
    4. इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपना यूजर आईडी, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
    5. अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा।
    6. आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, एड्रेस आदि दर्ज करना होगा।
    7. इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
    8. इस प्रकार आप सक्षम कक्षाओं के लिए चयन हेतु ऑनलाइन परीक्षा के लिए आवेदन कर पाएंगे।

    यूपी मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का उद्देश्य

    UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 का मुख्य उद्देश्य आईएएस, आईपीएस, पीसीएस, एनडीए, सीडीएस, नीट जैसी प्रतियोगिताओं के लिए छात्रों को निशुल्क कोचिंग प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से वह सभी छात्र जो अपनी आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण कोचिंग नहीं प्राप्त कर पाते उन सभी छात्रों को निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी। Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 के अंतर्गत कोचिंग प्राप्त करने के लिए छात्रों को किसी दूसरे राज्य में जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। वह अपने राज्य एवं अपने जिले से कोचिंग प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के होनहार छात्रों को आगे बढ़ने का अवसर प्राप्त होगा और वह अच्छी से अच्छी कोचिंग प्राप्त करके परीक्षा में बैठ पाएंगे।

    यूपी मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना 2021 के लाभ तथा विशेषताएं

    1. उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना आरंभ की गई।
    2. इस योजना के अंतर्गत आईएएस, आईपीएस, पीसीएस, एनडीएस, सीडीएस, नीट आदि जैसी प्रतियोगिताओं की परीक्षा की तैयारी करने के लिए निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी।
    3. वह सभी छात्र जो अपनी आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण कोचिंग नहीं प्राप्त कर पाते थे उनको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी।
    4. UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 के अंतर्गत सिलेबस एवं क्वेश्चन बैंक में उपलब्ध करवाए जाएंगे।
    5. इस योजना का कार्यान्वयन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की निगरानी में किया जाएगा।
    6. मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत कक्षाएं बसंत पंचमी के दिन से आरंभ होंगी।
    7. इस योजना के अंतर्गत छात्रों को ऑनलाइन स्टडी मटेरियल के साथ ऑफलाइन कक्षाएं भी प्रदान की जाएंगी।
    8. मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत केवल कोचिंग ही नहीं बल्कि छात्रों को मार्गदर्शन भी प्रदान किया जाएगा। यह मार्गदर्शन विभिन्न अफसरों द्वारा प्रदान किया जाएगा।
    9. इस योजना के अंतर्गत विषय विशेषज्ञों से गेस्ट लेक्चर का प्रबंध भी कराया जाएगा।
    10. मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत परीक्षा पैटर्न की जानकारी भी छात्रों को प्रदान की जाएगी।
    11. इस योजना के अंतर्गत उच्च स्तरीय कोचिंग संस्थानों के स्टडी मेटेरियल भी छात्रों को प्रदान किए जाएंगे।
    12. इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश प्रशासन एवं प्रबंधन अकैडमी को स्टडी मैटेरियल का प्रबंध करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।
    13. छात्रों द्वारा प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद मुख्य परीक्षा की तैयारी करवाने की जिम्मेदारी भी उपाम को सौंपी गई है।
    14. इस योजना के प्रथम चरण में 18 मंडल मुख्यालयों को शामिल किया गया है।
    15. इस योजना के अंतर्गत एक ई प्लेटफार्म भी विकसित किया जाएगा।
    16. ई प्लेटफार्म के माध्यम से छात्रों को e-content प्रदान किया जाएगा। इस ई प्लेटफार्म के माध्यम से छात्र कोचिंग भी प्राप्त कर सकते हैं। ई प्लेटफार्म पर छात्र अपने प्रश्न भी पूछ सकते है

    मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत अनुभवी ऑफिसर्स व शिक्षकों का मिलेगा मार्गदर्शन 

    अभ्युदय योजना के अंतर्गत वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों से मिलेगा सीधा मार्गदर्शन : सीएम योगी की इस अभिनव पहल को लेकर प्रदेश के वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों में भी खूब उत्साह है. अभ्युदय कक्षाओं में प्रतियोगी छात्रों से यह अधिकारी सीधा संवाद करेंगे. पंजीकरण करने वाले छात्रों को कार्यरत आईएएस, आईपीएस भारतीय वन सेवा, पीसीएस, पीपीएस के साथ ही अन्य संवर्ग के अधिकारी शिक्षित करेंगे। इसके अलावा रिटायर्ड अधिकारी और सब्जेक्ट एक्सपर्ट भी इन छात्रों को पढ़ाएंगे। इसके लिए विश्वविद्यालयों, विभिन्न विषयों के संस्थानों, कॉलेजों में सब्जेक्ट एक्सपर्ट्स को भी एंपैनल किया जाएगा।

    तो दोस्तों कैसे लगी हमारी आज की जानकारी यूपी मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना में आवेदन कैसे करें,अभ्युदय योजना रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन कैसे करें ,अभ्युदय कोचिंग रजिस्ट्रेशन फॉर्म कैसे डाउनलोड करें ,अभ्युदय योजना रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन,अभ्युदय योजना क्या है उम्मीद करता हूँ आप लोगों को बेहद पसंद आया होगा अगर इस पोस्ट से सम्बंधित कोई भी जानकारी और चहिए या आप का कोई सवाल हो तो जरूर नीचे कमेंट करे ,हम आप का तुरन्त जबाब देंगें .

    0 comments:

    Post a Comment

    Any Query Related Post Please Comments

    www.fasterjobselection.in. Powered by Blogger.

    Search This Blog